यूपी गोपालक योजना 2022 ऑनलाइन फॉर्म, Last Date

Uttar Pradesh Gopalak Scheme Application Form | Apply Online for Mukhyamantri Gopalak Yojana in UP | UP Gopalak Yojana Registration Form. उत्तर प्रदेश की गुना में एक बड़ा योगदान उत्तर प्रदेश में पैदा होने वाले दुग्ध उत्पादों का भी है। क्योंकि प्रदेश की जनसंख्या काफी ज्यादा है और दूध और दूध से जुड़े हुए पदार्थों का उपभोग करने वाले लोगो की संख्या भी काफी अधिक हैं तो ऐसे में यह सेक्टर भी काफी विस्तरित हैं। लेकिन खास बात यह है कि काफी सारे लोगों को जरूरत के अनुसार प्रोडक्ट नहीं मिल पाता और ऐसे में इस क्षेत्र में काफी विकास किया जा सकता है जिससे कि राज्य की इकोनामिक और भी ऊपर जा सकती है

और जीडीपी में वृद्धि कर सकती है। इसके क्षेत्र में रोजगार के भी काफी अवसर है लेकिन कमी केवल एक प्रबंधन की हैं! उत्तर प्रदेश की राज्य सरकार ने इस बारे में सोच हैं और ‘उत्तर प्रदेश गोपालक योजना’ (UP Gopalak Yojana) शुरू की है। इस योजना से ना केवल उपभोक्ताओं को फायदा होगा बल्कि इंडस्ट्री और छोटे स्तर पर व्यवसाय करने वाले दुग्ध उत्पादक को भी काफी फायदा होगा। इस लेख में हम उत्तर प्रदेश गोपालक योजना के बारे में बात करेंगे और ‘उत्तर प्रदेश गोपालक योजना ऑनलाइन फॉर्म 2022 कैसे भरना हैं’ के बारे में भी जानेंगे।

 

UP Gopalak (Milk Dairy Loan Scheme) Yojana Online Application Form 2022

Name of the Scheme Uttar Pradesh Gopalak Yojana
Launched By उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के द्वारा
Launched Date NA
Location Uttar Pradesh State
Category Sarkari Yojana
Beneficiaries भारतीय
Official Website Not Yet Launched

उत्तर प्रदेश गोपालक योजना क्या है?

उत्तर प्रदेश गोपालक योजना राज्य सरकार के द्वारा शुरू की गई एक बेहतरीन योजना है जिसका लक्ष्य राज्य में दुग्ध उत्पादन के क्षेत्र में विकास करना है। उत्तर प्रदेश में बड़ी मात्रा में दुग्ध उत्पादन किया जाता है और इससे जुड़े हुए डेयरी बिजनेस उपलब्ध है लेकिन उसके बावजूद भी डिमांड काफी ज्यादा है जिससे कि क्षेत्र में रोजगार के काफी अवसर भी है। उत्तर प्रदेश गोपालक योजना के द्वारा जो भी व्यक्ति उत्तर प्रदेश में रहता है और दुग्ध व्यवसाय शुरू करना चाहता है उसे लोन दिया जाएगा। सरल भाषा में अगर उत्तर प्रदेश गोपालक योजना को समझा जाए तो योजना के माध्यम से डेयरी फार्म के द्वारा अपना खुद का रोजगार आरम्भ करने के लिए लोन मुहैया कराया जायेगा।

इस योजना से लोन प्राप्त करने पर आवेदक को कम ब्याज दर चुकानी होगी ताकि वह आसानी से अपने व्यवसाय आगे बढ़ा सके। इस योजना के जरिए राज्य सरकार बैंक के माध्यम से आवेदकों को 9 लाख रुपये तक का लोन दिलवाने में मदद करेगी। जिन लोगो के पास 10 से 20 गाये हैं या फिर 5 से अधिक भेसे वह इस योजना के आवेदन करके अपने व्यवसाय को आगे बढ़ाने के लिए लोन प्राप्त कर सकते हैं और अपना खुद का डेयरी फार्म खोल कर एक उच्च स्तर पर व्यवसाय शुरू कर सकते हैं। अंतर्गत पशुपालक को 10 पशुओं के हिसाब से 1.5 लाख  की लागत से पशुशाला खुद बनानी होगी और इसी आधार पर उन्हें योजना जे माध्यम से लोन दिया जाएगा।

यूपी बिजली बिल माफी योजना 2022

उत्तर प्रदेश गोपालक योजना का उद्देश्य क्या है?

इस बात में कोई दो राय नहीं है कि उत्तर प्रदेश में दुग्ध उपभोक्ताओं की संख्या काफी ज्यादा है और इसके चलते इस क्षेत्र में व्यवसाय के काफी अवसर भी पैदा होते हैं जिससे राज्य में रहने वाले लाखों लोगों को रोजगार मिल सकता है। काफी सारे लोग ऐसे हैं जो उत्तर प्रदेश में डेरी से संबंधित व्यवसाय शुरू करना चाहते हैं लेकिन उनको इसके लिए आसानी से लोन नहीं मिल पाता और उत्तर प्रदेश गोपालक योजना का मुख्य उद्देश्य ऐसे लोगों को लोन दिलवाना ही है। इस योजना के माध्यम से बेरोजगार युवा क्षेत्र में अपना व्यवसाय शुरू करने के लिए लोन ले सकेंगे और इससे उन्हें रोजगार प्राप्त करने में मदद मिलेगी। ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले लोग जो पशुओं को पालने करते हैं को योजना का लाभ उच्चर स्तर पर होगा।

उत्तर प्रदेश गोपालक योजना 2022 का लाभ उठाने के लिए पात्रता

अगर अब उत्तर प्रदेश के स्थाई निवासी हो और आप अपना खुद का डेयरी फॉर्म खोलकर रोजगार प्राप्त करना चाहते हो तो आप आसानी से उत्तर प्रदेश गोपालक योजना 2022 के अंतर्गत आवेदन करके इसका लाभ उठा सकते हो। इस योजना का लाभ उठाने के लिए उत्तर प्रदेश की राज्य सरकार ने कुछ पात्रताए है तय की है, जो इस प्रकार है:

  • इस योजना के अंतर्गत केवल उत्तर प्रदेश की बेरोजगारी युवाओं को लोन दिया जाएगा जो अपना डेयरी फार्म खोलना चाहते हैं।
  • केवल उत्तर प्रदेश के स्थाई निवासियों को भी इस योजना का लाभ मिलेगा।
  • योजना का लाभ उठाने के लिए पशुपालकों के पास कम से कम 5 पशु होने चाहिए जी दुग्ध का उत्पादन करते हो।
  • योजना का लाभ उठाने वाले आवेदक की आय एक लाख पर एक लाख रुपये से कम होनी चाहिए।
  • इस योजना के माध्यम से पशु मेले के द्वारा पशु खरीदे जा सकेंगे और बेचने वालों के लिए शर्त यह है कि जिन भी पशुओं को भेजा जाएगा वह स्वस्थ होने चाहिए और उत्पादन करने योग्य होने चाहिए।
  • आवेदक के पास आधार कार्ड, पहचान पत्र, निवास प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, मोबाइल नंबर और पासपोर्ट साइज फोटो जैसे सभी दस्तावेज होना आवश्यक हैं।

उत्तर प्रदेश गोपालक योजना के लिए आवेदन कैसे करें?

अगर आप चाहे तो आसानी से उत्तर प्रदेश गोपालक योजना के लिए आवेदन करके इसका लाभ उठा सकते हैं बशर्ते आप एक पात्र आवेदक हो। इस योजना का लाभ उठाने के लिए आपको योजना के लिए आवेदन करना होगा, जिसके लिए निम्न स्टेप्स फॉलो करें:

  • योजना का फॉर्म प्राप्त करने के लिए आपको अपने नजदीकी पशु चिकित्सा अधिकारी के पास जाना होगा।
  • इस फॉर्म में मांगी गई सभी अनिवार्य जानकारियां आपको भरनी होगी और फॉर्म के साथ जरूरी दस्तावेज अटैच करने होंगे।
  • इसके बाद इस आवेदन फॉर्म को आपको वापस एक बार फिर से जांच करते हुए पशु चिकित्सा अधिकारी को जमा कराना होगा।

आपका काम यही पूरा हो जाता हैं। चिकित्सा अधिकारी के द्वारा आपका फॉर्म आगे भेजा जाएगा जहां से आपकी पात्रता की जांच की जाएगी और अगर आप एक पात्र आवेदक हुए तो आपके फॉर्म को अप्रूव करते हुए आपको बैंक से कम ब्याज दरों पर लोन दिलवा दिया जाएगा।

मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार योजना 2022

Leave a Comment