(Registration) मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना 2022 Last Date

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना pdf download | mukhyamantri krishak durghatna kalyan yojana online form 2022 @pmhelpline.com. हमारे देश के अधिकतर इकोनामी कृषि पर आधारित है लेकिन उसके बावजूद भी किसानों की बुरी हालत से मुंह नहीं रहा जा सकता। हमारे देश के अधिकतर किसान छोटे व सीमांत किसान है जो काफी कम जमीन पर खेती करते हैं और कम उत्पादन के कारण उनकी आय भी कम ही होती हैं। कृषि उनका इकलौता इनकम सोर्स होता है और इस वजह से उन्हें कई बार अपने सामान्य जरूरतों को पूरा करने का मौका भी नहीं मिल पाता तो ऐसे में इंश्योरेंस जैसी चीजें तो कहा ही उनके हाथ काफी है। शहर में रहने वाले और समझदार लोग इंश्योरेंस अर्थात बीमा का महत्व समझते हैं लेकिन किसान और अधिकतर आर्थिक रूप से कमजोर लोग इन चीजों में पैसा निवेश नहीं करते लेकिन सरकार चाहती है कि किसानों को भी इस प्रकार की सुविधा मिले को यही कारण है कि उत्तर प्रदेश की राज्य सरकार में ‘मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना 2022‘ शुरू की है।

mukhyamantri krishak durghatna kalyan yojana form pdf download
mukhyamantri krishak durghatna kalyan yojana form pdf download

मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ किसान कृषक दुर्घटना कल्याण योजना Registration 2022 Form PDF

Name of Schemes मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना
Introduced by मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी
Motive राज्य के किसानो को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करना
Beneficiary उत्तर प्रदेश के किसानो
Start Date to Apply Available Here
Category Sarkari Yojana 2021
Official website Not Yet Declared, visit www.PMHelpline.Com

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना क्या है?

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना राज्य सरकार के द्वारा किसानों के लिए चलाई जा रही सबसे बेहतरीन योजनाओं में से एक है। उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री दुर्घटना कल्याण योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश राज्य में रहने वाले आर्थिक रूप से कमजोर किसानों को राज्य सरकार की तरफ से दुर्घटना में किसान की मृत्यु होने पर ₹500000 का मुआवजा दिया जा रहा है। यह योजना किसान को एक तरह से उसके परिवार के लिए निश्चिन्त और मानसिक रूप से सुरक्षित बनाने के लिए चलाई जा रही हैं। इस योजना के अंतगर्त किसान की दुर्घटना में मृत्यु होने पर उसके परिवार को 5 लाख रुपये और दिव्यांगता आने और 2 लाख रुपये दिए जाते हैं। सरल भाषा मे यह योजना किसानों के लिए एक मुफ्त बीमा कवर हैं जो उन्हें राज्य सरकार के द्वारा दिया जा रहा हैं।

इस योजना में आवेदन करने के बाद अगर किसान की आग लगने, बाढ़, बिजली गिरने, करंट लगने, सर्पदंश , जीव-जंतु व जानवर के काटने, मारने व आक्रमण से हत्या, आतंकवादी हमला, लूट, डकैती, मारपीट में होने वाली दुर्घटना, समुद्र, नदी, झील, तालाब, पोखर व कुएं में डूबने से, रेल, सड़क और हवाई यात्रा के दौरान होने  वाली दुर्घटना,आंधी-तूफान, वृक्ष से गिरने, दबने व मकान गिरने आकाश से बिजली गिरने, आग लगने, बाढ़ आदि में होने वाली दुर्घटना, सीवर चैंबर में गिरने जैसे कारणों या फिर कहा जाए तो दुर्घटनाओं से मृत्यु या दिव्यांगता होती हैं तो राज्य सरकार की तरफ से उसके परिवार को आर्थिक सहायता मिलती हैं।

मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना योजना का उद्देश्य क्या है?

उत्तर प्रदेश की राज्य सरकार के द्वारा चलाई जा रही मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना वर्तमान में राज्य में किसानों के लिए चलाई जा रही सबसे बेहतरीन योजनाओं में एक हैं। जिसके अंतर्गत अगर दुर्घटना में किसान की मृत्यु हो जाती है या फिर किसान दुर्घटना में दिव्यांगता का शिकार हो जाता है तो उसके परिवार को राज्य सरकार की तरफ से आर्थिक सहायता या फिर कहा जाए तो मुआवजा दिया जाता है। राज्य में रहने वाले प्रोफेशनल और अच्छी आय वाले व्यक्ति जो पढ़े लिखे हुए हैं वह अपने परिवार के लिए बीमा जैसे बंद करके रखते हैं जिससे कि अगर उन्हें कुछ हो जाए तो उनके परिवार को आकर समस्या का सामना ना करना पड़े लेकिन छोटे बच्चे के साथ जो आर्थिक रूप से कमजोर होते हैं ऐसे प्रबंध नहीं कर पाते। इस योजना का मुख्य उद्देश्य किसान की मृत्यु या विकलांगता की स्थिति में किसान परिवारों की आर्थिक सहायता करना ही हैं।

मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना योजना का लाभ उठाने के लिए पात्रता

मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना योजना वर्तमान में राज्य में चलाई जा रही सबसे बेहतरीन योजनाओ में से एक हैं जिससे किसानों को काफी लाभ हो रहा हैं। लेकिन इस योजना का लाभ उठाने के लिए राज्य सरकार के द्वारा कुछ पात्रताए तय की गई है, जो इस प्रकार हैं:

  • केवल उत्तर प्रदेश के स्थायी नागरिको को ही इस योजना का लाभ मिलेगा।
  • केवल 18 से 70 वर्ष के किसान ही योजना का लाभ उठाने के लिए पात्र होंगे।
  • केवल वह परिवार जिनका मुख्य आय स्त्रोत कृषि ही हैं इस योजना का लाभ उठा सकेंगे।
  • जो किसान किराये पर भूमि लेकर खेती करते हैं वह भी इस योजना का लाभ उठा पाएंगे।

मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना के लिए आवेदन कैसे करे?

अगर आप मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना का लाभ उठाना चाहते हो तो वर्तमान में आपको इसके लोए केवल ऑफलाइन आवेदन ही करना होगा। आप यह से ऑफलाइन मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना एप्लीकेशन फॉर्म पीडीऍफ़ डाउनलोड कर सकते है। जो किसान इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं उन्हें अपने जिले के मुख्य सरकारी कार्यालय में जाकर आवेदन करना होगा। इस योजना के लिए मृत्यु या दुर्घटना के बाद भी आवेदन किया जा सकता हैं। राज्य सरकार के द्वारा आधिकारिक रूप से दी गयी जानकारी के अनुसार जल्द ही इस योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया भी शूरी कर दी जाएगी। योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया को सक्रिय बनाने के लिए अभी पोर्टल का निर्माण किया जा रहा हैं। जैसे ही पोर्टल तैयार हो जाया या फिर ऑनलाइन आवेदन की कोई प्रक्रिया सामने आएगी हम आपको इस वेबसाइट पर पूरी आवेदन प्रोसेस के साथ उसकी जानकारी देंगे।

मुख्यमंत्री किसान एवं सर्वहित बीमा योजना 2022

Leave a Comment