एकीकृत किसान पोर्टल पर पंजीयन हेतु आवेदन पत्र @kisan.cg.nic.in

एकीकृत किसान पोर्टल

एकीकृत किसान पोर्टल: सरकार किसानों के हित के लिए कई तरह की पहल चलाती है। इन सभी पहलों से लाभ पाने के लिए किसानों को विभिन्न वेबसाइटों पर पंजीकरण कराना होगा। परिणामस्वरूप, किसानों को विभिन्न प्रकार की बाधाओं का सामना करना पड़ता है। इसी को ध्यान में रखते हुए छत्तीसगढ़ सरकार ने एकीकृत किसान पोर्टल लॉन्च किया है। किसानों को अब इस प्लेटफॉर्म के जरिए अलगअलग योजनाओं के लिए अलग से रजिस्ट्रेशन कराने की जरूरत नहीं पड़ेगी. आज के अपने Ekikrit Kisan Portal 2024 लेख के माध्यम से हम आपको इस गेटवे पर व्यापक जानकारी प्रस्तुत करेंगे। एकिकृत किसान पोर्टल का उद्देश्य, लाभ, विशेषताएं, पात्रता, आवश्यक दस्तावेज, पंजीकरण प्रक्रिया, लॉगिन, ऑनलाइन पंजीकरण, इत्यादि।

Ekikrit Kisan Portal 2024

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने Ekikrit Kisan Portal- kisan.cg.nic.in लॉन्च किया है। राज्य में किसानों को अब विभिन्न प्रकार की योजनाओं के लिए अलगअलग आवेदन जमा करने की आवश्यकता नहीं है। इस पोर्टल पर पंजीकरण करने वाले सभी किसान शुरू की गई सभी किसान कल्याण पहलों के लिए पात्र होंगे। इससे समय और धन की बचत होगी साथ ही सिस्टम पारदर्शिता भी बढ़ेगी। किसानों के पंजीकरण का उपयोग विभिन्न सरकारीशासित कार्यक्रमों के लिए किया जाएगा। यह मंच यह सुनिश्चित करेगा कि राज्य का प्रत्येक किसान विभिन्न पहलों से लाभान्वित हो रहा है या नहीं।

इसके अलावा, सरकार के पास एकिकृत किसान पोर्टल के माध्यम से सभी किसानों के डेटाबेस तक पहुंच होगी। सरकार इस डेटाबेस का उपयोग करके किसानों के लिए कई कार्यक्रम शुरू करने में सक्षम होगी। इसका उपयोग करने के लिए किसान को पहले इस पोर्टल Ekikrit Kisan Portal पर पंजीकरण कराना होगा। RAEO के माध्यम से पंजीकरण संभव है।

Ekikrit Kisan Portal
Ekikrit Kisan Portal

Details of Ekikrit Kisan Portal 2024

नाम एकीकृत किसान पोर्टल
साल 2024
आरंभ की छत्तीसगढ़ सरकार
लाभार्थी छत्तीसगढ़ के किसान
आधिकारिक वेबसाइट kisan.cg.nic.in
राज्य छत्तीसगढ़
आवेदन का प्रकार ऑनलाइन/ऑफलाइन

एकीकृत किसान पोर्टल का उद्देश्य

इस पोर्टल का मुख्य लक्ष्य किसानों को एक ही मंच के माध्यम से कई योजनाओं के लिए पंजीकरण करने की अनुमति देना है। राज्य में किसानों को अब विभिन्न प्रकार की योजनाओं के लिए कई वेबसाइटों पर आवेदन नहीं करना पड़ेगा। वह एकिकृत किसान पोर्टल के माध्यम से आवेदन करके विभिन्न प्रकार की पहल से लाभ उठा सकेंगे। यह गेटवे समय और धन दोनों बचाएगा जबकि सिस्टम पारदर्शिता भी बढ़ाएगा। एकीकृत किसान पोर्टल के माध्यम से सरकार को राज्य के सभी किसानों के डेटाबेस तक भी पहुंच प्राप्त होगी। जिसका उपयोग किसानों को कई प्रकार के कार्यक्रमों का लाभ दिलाने में किया जा सकता है।

लाभ तथा विशेषताएं

  • छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने एकीकृत किसान पोर्टल लॉन्च किया है।
  • Ekikrit Kisan Portal के अनुसार राज्य में किसानों को अब विभिन्न प्रकार की योजनाओं के तहत अलगअलग आवेदन जमा करने की आवश्यकता नहीं होगी।
  • इससे समय और धन की बचत होगी साथ ही सिस्टम पारदर्शिता भी बढ़ेगी।
  • यह साइट किसानों के जीवन को आसान बनाकर उन्हें लाभान्वित करेगी।
  • इस प्लेटफॉर्म पर रजिस्ट्रेशन कराने वाले किसान कई सरकारी कार्यक्रमों का लाभ उठा सकेंगे। 
  • इस साइट के परिणामस्वरूप किसानों की जीवन स्थितियों में भी सुधार होगा।
  • छत्तीसगढ़ एकीकृत किसान पोर्टल सरकार को किसान डेटाबेस उपलब्ध कराने में भी उपयोगी होगा।
  • यह डेटाबेस सरकार को कई परियोजनाओं को पूरा करने में सहायता करेगा।

राजीव गांधी किसान न्याय योजना

महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • जाति प्रमाण पत्र
  • राशन कार्ड
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर
  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • आयु का प्रमाण

CG Berojgari Bhatta

पात्रता मानदंड

  • आवेदक छत्तीसगढ़ का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • खरीफ 2021 में धान उपार्जन करने वाले किसानों की फसल/रब्बा में परिवर्तन नहीं होने पर पंजीयन कराने की कोई आवश्यकता नहीं है।
  • कृषि में वन पट्टाधारकों सहित सभी प्रकार के भूमि मालिकों को शामिल किया जाना चाहिए।

CG Ration Card

Ekikrit Kisan Portal पर पंजीकरण करने की प्रक्रिया क्या है?

  1. सबसे पहले, किसान को यहां उपलब्ध आवेदन पत्र प्राप्त करना होगा।
  2. इसके बाद आपको इस आवेदन पत्र को प्रिंट करना होगा।
  3. इसके बाद, आपको इस आवेदन पत्र के साथ सभी प्रासंगिक दस्तावेज संलग्न करने होंगे।
  4. अब आप को आवेदन पत्र में पूछी गई निम्नलिखित जानकारी दर्ज करनी होगी।
  5. जिला
  6. पता
  7. ग्राम का नाम
  8. कृषक का नाम
  9. पिता का नाम
  10. संबंध
  11. वर्ग
  12. विशेष जनजाति
  13. मोबाइल नंबर
  14. निवास ग्राम का नाम
  15. विकासखंड
  16. पटवारी हल्का नंबर
  17. ऋण पुस्तिका क्रमांक
  18. कुल भारत रकबा
  19. बैंक खाते का विवरण आदि
  20. अब आपको यह आवेदन पत्र सत्यापन के लिए उपयुक्त RAEO को जमा करना होगा।
  21. आपको RAEO के माध्यम से उन्नति करनी चाहिए।
  22. किसानों के आवेदन पत्र आरएईओ द्वारा संबंधित समिति तक पहुंचाए जाएंगे।
  23. इसके बाद समिति किसानों का पंजीकरण करेगी या उनका पंजीकरण अपडेट करेगी।
  24. पंजीयन कराने के बाद किसानों को एसएमएस से सूचना प्राप्त होगी।

छत्तीसगढ़ ग्रामीण आवास न्याय योजना

Apply Online Link Click Here
PMHelpline Homepage Click Here

 

Leave a Comment