दिल्ली पानी बिल माफी योजना 2024 {Delhi Pani Bill Mafi Scheme} Registration

Delhi Pani Bill Mafi Scheme 2024

दिल्ली पानी बिल माफी योजना 2024: जैसे की  आप सब भी जानते होंगे की दिल्ली के माननीय मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा राज्य के सभी नागरिकों को कहा था की इस समय काफी नागरिकों के पानी के मीटर के बिल ज्यादा और गलत बिल उनके घर तक पहुंचाए जा रहें है। जिससे नागरिकों का काफी नुकसान हो रहा है। इस कारण ही सरकार द्वारा Delhi Pani Bill Mafi Yojana 2024 की शुरु आत की गई है। जिसके माध्यम से नागरिकों के बिजली बिल माफ़ किए जाएंगे। तो यदि आप दिल्ली के नागरिक है तो इस लेखको अंततक आपको ज़रूर पढ़ना चाहिए। इस लेख के तहत हम आपको Delhi Pani Bill Mafi Yojana 2024 से जुड़ी जानकारी जैसे- योजना का उद्देश्य, लाभ एवं विशेताएं, पात्रता मानदंड, आवश्यक दस्तावेज़, आवेदन करने की प्रक्रिया आदि देंगे। तो हमारा निवेदन है की आप लेखको अंततक ज़रूर पढ़े।

Delhi Pani Bill Mafi Yojana 2024

राज्य सरकार द्वारा 13 जून 2024 को पानी के गलत बिलो को सही करने का ऐलान किया गया था। जिसके लिए वनटाइम सेटेलमेंट योजना को जारी किया गया। दिल्ली पानी बिल माफ़ी योजना 2024 माध्यम से उन सभी नागरिकों के पानी बिल सही किए जाएंगे। जिनके बिलो की रीडिंग गलत दी जा रही है। आपको बता दें की राज्य सरकार द्वारा की शुरुआत 1 अगस्त 2024 से की जाएंगी। जिसका लाभ सभी पात्रनागरिकों को तीन महीने तक दिया जाएगा। मुख्यमंत्री अरविन्द के जरी वाल राज्य के 11.7 लाख उपभोक्ता ओंशा मिलकर 20 हजार को लाभवंतित करेंगे। सभी लाभार्थियों को Delhi Pani Bill Mafi Yojana 2024 के तहत अपने बिल को सही करने के लिए बोर्ड के ऑफिस जाने की ज़रूरत नहीं है। तोच लिए जानते है।

Delhi Bill Mafi Yojana 2024
Delhi Bill Mafi Yojana 2024

Highlights of Delhi Pani Bill Mafi Scheme 2024

योजना का नाम Delhi Pani Bill Mafi Yojana
शुरू की गई दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के द्वारा
योजना का शुभारंभ 1 अगस्त 2024 से
लागू  की जाएगी 3 महीने के लिए
लाभार्थी दिल्ली के नागरिक
उद्देश्य पानी के गलत बिलों को ठीक करना
राज्य दिल्ली
साल 2024

वनटाइम सेटेलमेंट योजना के अंतर्गत दिल्ली के 11.7 लाख उपभोक्ता ओंको मिलेगी राहत

तो मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है की वह राज्य के नागरिकों के पानी बिल काफी ज़्यादा आ रहें है। जिस कारण उन्हें काफी दिक्कत हो रही है। उन्होंने यह भी बताया की कोरोना संक्रमण के पश्चात मीटर की रीडिंग नहीं हो पाई है। जिस कारण बहुत से मीटर रीडरों द्वारा काफी गलत बिल निकले गए। इसके साथ ही उन्होंने बताया की दिल्ली में करीब 27 लाख पानी के उपभोक्ता है। जिनके डोमेस्टिक मीटर और साथ ही 11.7 लाख उपभोक्ता ओंके बिल में एरियर्स जुड़े हुए है। यह नागरिक किसी न किसी कारण बिल भरने में सक्षम नहीं है।जिसको लेकर सभी नागरिक काफी परेशान है।

दिल्ली बेरोजगारी भत्ता

बकाया बिल को दो श्रेणियों में बांटा गया

दिल्ली सरकार द्वारा दिल्ली पानी बिल माफ़ी योजना 2024 के तहत लोगो को लाभ वंतित करने के लिए बताया बिलो को दो श्रेणियों में बाटा गया है। जिसकी जानकारी हमने आपको नीचे दी है:-

  • प्रथम श्रेणी – राज्य के वह सभी नागरिक जिनके दो या दो से ज्यादा ज्यादा मीटर रीडिंग सही है। और मीटर रीडर ने उपभोक्ता के घर जाकर एक वास्तविक रीडिंग ली है। और दोनों का कवरेज ले लिया है। अगर दो से ज्यादा रीडिंग है तो बीच वाली मीटर रीडिंग का औसत लिया जाएगा। मगर इसकी अगली रीडिंग डबल से ज्यादा है तो माना जाएगा कि रीडिंग गलत ली गई है। अगर दो से ज्यादा रीडिंग है तो बीच वाली मीटर रीडिंग का औसत लिया जाएगा। इसके साथ ही अगर इस की अगली रीडिंग डबल से ज्यादा है। तो माना जाएगा कि रीडिंग गलत ली गई है। इसके बाद उपभोक्ता के द्वारा जितने महीने का बिल नहीं भरा गया होगा। उनके हर महीने के बिल में औसत बिल को डाल दिया जाएगा और उसी हिसाब से नया बिल बनाकर भेजा जाएगा।
  • दूसरी श्रेणी:- अब दूसरी श्रेणी में वह नागरिक है। जिनकी औसत रीडिंग मौजूद नहीं है। इसके लिए आपके पड़ोसियों के बिल की जांच की जाएगी। इसका कारण यह है की उपभोक्ता जिस इलाके में रहता है और उसका 100 एवं 200 या 300 गज काम का न है तो उस एरिया में उसी आकार के जितने घर हो गए उनकी मीटर रीडिंग का औसत निकाला जाएगा। जिसके बाद उसी के आधार पर उपभोक्ता को पानी बिल दिए जाएंगे।

Sugamya Sahayak Yojana

Delhi Pani Bill Mafi Scheme 2024 हेतु पात्रता मानदंड

  • इस योजना का लाभ केवल दिल्ली के नागरिक ही प्राप्त करने के पात्र है।
  • दिल्ली सरकार Delhi Pani Bill Mafi Yojana का लाभ प्राप्त करने हेतु उम्मीदवारों को 3 महीनों में नए बिल के हिसाब से पानी का बिल भरना होगा।

दिल्ली मजदूर सहायता योजना

पानी के प्रोडक्शन को 1300 एम जी डी ले जाना है।

दिल्ली सरकार ने बताया की जिस समय उन्होंने राजनीती में कदम रखा था तब 850 एम जी डी पानी दिल्ली में उत्पन्न होता था। जिसके पश्चात हमने 1000 तक पहुंचाया है। अब हमारा लक्ष्य है की हम 1300 MGD तक ले जाएं। अपने इस लेख्य को पूरा करने के लिए हम एक नई योजना की शुरुआत कर रहें है। जिससे पानी की समस्या कम होगी। दिल्ली सरकार यमुना काफ्लैटप्लान यहां पानी का बड़े स्तर पर ट्यूबवेल लगा रहे हैं। शिविर को ट्रीटकर के एसटीमेंजो पानी निकलता है। उसे अभी यमुना में बहाया जाता है। इन 35 प्लांट से साफ हुए पानी को कृत्रिम झीलों में डाला जाएगा। जब पानी का लेवल काफी बढ़ेगा तो ट्यूबवेल खोदेंगे और वहां के पानी को निकालकर आरओ से साफ करेंगे और सप्लाई करेंगे। इस तरह छोटे-छोटे ट्यूबवेल की जरूरत नहीं पड़ेगी। दिल्ली सरकार द्वारा शुरू की गई योजना के माध्यम से नागरिकों को पानी की कमी नहीं होगी।

DDA Housing Scheme

Apply Link Notified Soon
PMHelpline Hompage Click Here

 

Leave a Comment