मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना 2022 Online Form @soilhealth.dac.gov.in

प्रधानमंत्री मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना | मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना राजस्थान/उत्तर प्रदेश | Apply Online for Mrida Swasthya Scheme Registration/Application Form @soilhealth.dac.gov.in. हमारे देश वर्तमान में दुनिया की सबसे बड़ी इकोनॉमी वाले देशों में शामिल है और हमारी इकोनॉमी का एक बड़ा भाग कृषि पर निर्भर करता है। अगर देश के किसानों को अधिक सुविधा नहीं दी जाएगी तो इससे उत्पादन में कमी आएगी जो भारी संकटों का कारण बन सकता है। वर्तमान केंद्र सरकार 2022 तक किसानों की इनकम दोगुना करने के लिए कई योजनाएं चलाई रही है। विभिन्न कार्यों के लिए विभिन्न योजनाएं चलाई जा रही है जैसे कि किसानों को सीधे आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना चलाई जा रही है और उनके उत्पादन को बढ़ाने के लिए और उन्हें आधुनिक रूप से खेती करने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए भी योजनाएं मौजूद है। ऐसी एक योजना ‘सॉइल हेल्थ कार्ड योजना‘ (Soil Healh Card Scheme 2022) है।

Pradhan Mantri Soil Health Card Yojana
Pradhan Mantri Soil Health Card Yojana

Mrida Swathya Health Card Scheme 2022 Registration Online Form Detail

Name of the Sarkari Yojana सॉइल हेल्थ कार्ड योजना
Department/Ministry कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय भारत सरकार
Launched By प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के द्वारा
Launched Date वर्ष 2015
Beneficiary देश के किसानो को लाभ पहुँचाना
Post Category Sarkari Yojana 2022
Official Website https://soilhealth.dac.gov.in/

सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम क्या हैं?

सोयल हेल्थ कार्ड स्कीम केंद्र सरकार के द्वारा चलाई जा रही एक बेहतरीन योजना हैं जिसका लक्ष्य देश मे रहने वाले किसानों की भूमि का परीक्षण करके खेत में मौजूद मिट्टी की जानकारी ली जाएगी और उसके अनुसार किसानों को बेहतरीन उत्पादन के लिए विशिष्ट सुविधाएं व जानकारी दी जाएगी। सॉइल हेल्थ कार्ड अर्थात मृदा स्वास्थ्य कार्ड के द्वारा किसानों को पता चल सकेगा तो उनकी मिट्टी किस प्रकार की है और उनके मिट्टी में कितने गुणवत्ता है जिससे वह बेहतरीन उत्पादन कर सकेंगे। मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना की शुरुआत साल 2015 में केंद्र सरकार के द्वारा की गई थी और यह योजना अभी तक चल रही है।

योजना के लिए आवेदन करने के बाद किसानों की जमीनों का परीक्षण किया जाएगा और उसके बाद जमीन से जुड़े सभी महत्वपूर्ण जानकारियां इकट्ठा करके एक कार्ड तैयार किया जाएगा। इस कार्ड में मृदा से सम्बंधित सभी जानकारिया होगी। इन जानकारियों के अनुसार किसानों की मदद की जाएगी। इस सोयल हेल्थ कार्ड में इस बात की जानकारी भी दी जाएगी कैसे एक किसान अपनी जमीन से कम लागत में अधिक मुनाफा कमा सकता है। यह योजना भारत सरकार के कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय के द्वारा शुरू की गई हैं। साल 2022 के अंत तक योजना में 14 करोड़ किसानों को जोड़ने का लक्ष्य हैं। 3 साल में एक बार मृदा स्वस्थ्य कार्ड बनाया जा सकेगा क्योंकि मृदा की स्थिति भी बदलती रहती हैं।

सॉइल हेल्थ कार्ड योजना का उद्देश्य क्या हैं?

केंद्र सरकार के द्वार शुरू की गई Soil Health Card Scheme देश के करोड़ो किसानों को लाभ पहुचाने वाली हैं। इस योजना के अंतगर्त किसानों के खेतों में मौजूद मृदा का परिक्षण करके एक कार्ड तैयार किया जाता हैं जिसकी मदद किसान अपने खेतों की मृदा के बेहतर स्वास्थ्य और उर्वरता में सुधार के लिये पोषक तत्त्वों का उचित मात्रा में उपयोग कर सकता हैं। इतना ही नही बल्कि साथ ही मृदा की पोषक स्थिति की जानकारी भी किसानों को इस मृदा स्वास्थ्य कार्रड के माध्यम से प्राप्त होगी। यह कार्रड किसानों को अंदाजे से नही बल्कि सटीक आकड़ो के माध्यम से आधुनिक कृषि करने में मदद करेगा जिससे कम लागत में अधिक मुनाफा प्राप्त किया जा सकेगा।

सोइल हेल्थ कार्ड स्किम में क्या होता हैं?

सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम का लाभ उठाने के लिए सबसे पहले आपको भी योजना के लिए आवेदन करना होता है। इसके बाद संबंधित विभाग के अधिकारी आते हैं और आपके खेत की मिट्टी के सैंपल लेकर जाते हैं। लैब में जाकर मिट्टी की जांच किया कि अगर मिट्टी से जुड़े की सभी महत्वपूर्ण जानकारियां जुटाई जाती है। इसके बाद मिट्टी की तकतौर कमजोरी की सूची बनने जाती हैं। अगर मिट्टी में कोई कमी हैं तो उसको दूर कैसे करे इसकी जानकारी भी इकट्ठी की जाती हैं। उसके बाद एक रिपोर्ट तैयार की जाती हैं जिसमे मिट्टी से जुड़ी हुई सभी जानकारी के साथ यह जानकारी भी दी जाती हैं कि किसान इस मिट्टी में कैसे सुधार कर सकता है और कैसे इससे अधिक से अधिक प्रॉफिट निकाल सकता हैं। इसके बाद इस सैंपल को ऑनलाइन किसान के नाम के साथ अपलोड कर दिया जाता हैं। इसके बाद किसान इस रिपोर्ट कार्ड (Soil Health Card) को आसानी से अपने मोबाइल पर ही देख सकता हैं।

सॉइल हेल्थ कार्ड योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करे?

अगर आप किसान और आपके पास कृषि योग्य जमीन है तो आप सोयल हेल्थ कार्ड योजना का लाभ उठाकर अपना मृदा कार्ड बनवा सकते हैं। यह पूरी तरह से निशुल्क है और इसके लिए आप ऑनलाइन आवेदन भी कर सकते हो:

Soil Health Card Yojana
Soil Health Card Registration
  • अपने राज्य का नाम चुने और कंटीन्यू के बटन पर क्लिक करके आगे बढ़े।
  • इसके बाद आपको New Registration के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
मृदा स्‍वास्‍थ्‍य कार्ड योजना
  • आपके सामने अब एक फॉर्म खुलेगा, इसमे मांगी गयी सभी जानकारिया भरे और महत्वपूर्ण दस्तावेजो की स्कैन्ड कॉपी उपलोड करे।
  • अब लॉगिन फॉर्म में नया यूजरनेम और पासवर्ड डाले और सबमिट करे।
  • इस तरह से योजना के आधिकारिक पोर्टल पर आपका अकाउंट बन जाएगा।
  • पोर्टल पर जाने के बाद आप अपने खेत से जुड़ी जानकारी देखकर मृदा स्वास्थ्य कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • सफलतापूर्वक सारे काम करने के बाद आप अपना हेल्थ कार्ड प्रिंट की लिंक पर क्लिक करके डाउनलोड भी कर सकते है।
Mrida Health Card Registration
  • अधिक जानकारी के लिए आप दी गयी लिंक के माध्यम से Contac Numbers के पेज पर जाकर संपर्क भी कर सकते है।

प्रधानमंत्री सरकारी योजना की नई लिस्ट 2022

Leave a Comment

Your email address will not be published.